'मेरी जरूरत होगी तो मैं तैयार रहूंगा', वर्ल्ड कप टीम में ना चुने जाने पर दिग्गज खिलाड़ी का अहम बयान

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के ऑफ स्पिनर गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) का मानना है कि वह भारतीय क्रिकेट की सेवा करने के लिए हमेशा तैयार है। रविचंद्रन अश्विन को मौजूदा एशिया कप (Asia Cup 2023) और वर्ल्ड कप (ICC World Cup 2023) के स्क्वॉड में जगह नहीं मिली है, लेकिन उनका कहना है कि अगर उन्हें मौका मिलता है तो वह उसके लिए हमेशा तैयार रहेंगे।

अश्विन ने दर्शाया टीम इंडिया के लिए अपना प्यार

वर्ल्ड कप 2023 के लिए भारतीय टीम में कुलदीप यादव, अक्षर पटेल और रविंद्र जडेजा के रूप में तीन मुख्य स्पिन गेंदबाजों को रखा गया है। इन तीनों में से एक भी ऑफ स्पिनर गेंदबाज नहीं है। ऐसे में अगर भारत को वर्ल्ड कप में एक ऐसे ऑफ स्पिनर की जरूरत है, जो जरूरत पड़ने पर बल्लेबाजी भी कर सके, तो रविचंद्रन अश्विन एक अच्छा विकल्प हो सकते हैं।

रविचंद्रन अश्विन ने अपने यूट्यूब चैनल पर इसके बारे में बात करते हुए कहा कि,"मैं पिछले 14-15 साल से टीम इंडिया के लिए खेल रहा हूं। मैंने अपने बेहतरीन पल बिताए हैं। मुझे असफलताओं का भी सामना करना पड़ा है। यहां तक कि मुझे भी असफलताओं और सफलताओं में उचित हिस्सेदारी मिली है। लेकिन मैंने अपने दिल के करीब भारतीय क्रिकेट का टैटू गुदवाया है। यदि उन्हें (भारतीय क्रिकेट) कल भी मेरी सेवा की आवश्यकता होगी तो मैं तैयार रहूँगा और अपना 100 प्रतिशत दूँगा।"

अश्विन के आगे कहा कि,“इस समय, हम अक्षर पटेल से बहुत ज्यादा उम्मीद कर रहे हैं। मुझे लगता है कि हमें उसे थोड़ा समय देना चाहिए। यदि हमारे पास अक्षर नहीं है, तो उनकी भूमिका कौन निभा रहा है? शार्दुल। आप उनसे क्या उम्मीद कर रहे हैं? 5-6 या कभी-कभी 8 ओवर करें, और 2-3 विकेट चटकाएं।"

टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा का मानना है कि उन्हें बल्लेबाजी में गहराई चाहिए और इसलिए वह नंबर-8 पर शार्दुल ठाकुर या अक्षर पटेल को खिलाते हैं, जो गेंदबाजी के साथ-साथ ठीक-ठाक बल्लेबाजी भी कर पाएं। श्रीलंका के खिलाफ हुए पिछले मैच में अक्षर पटेल को खेलने का मौका मिला था, और वही एक ऐसे स्पिनर थे, जिन्हें एक भी विकेट नहीं मिला था। हालांकि, उन्होंने बल्लेबाजी में कुछ जरूरी रन जरूर बनाए थे।

0/Post a Comment/Comments